जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
प्रोटोकॉल जारी होने के बाद एकबार फिर रद्द हो गया स्वतंत्र देव सिंह का दौरा, आया नया लेटर
उत्तर प्रदेश सरकार के जलशक्ति विभाग के मंत्री स्वतंत्र देव सिंह का दो दिवसीय जनपद भ्रमण कार्यक्रम प्रस्तावित होने के बाद एकबार फिर से टल गया है। जारी किए गए प्रोटोकॉल के हिसाब से वह  1 सितंबर से 2 सितंबर तक जिले में प्रवास करने वाले थे।
 

चंदौली जिले में उत्तर प्रदेश सरकार के जलशक्ति विभाग के मंत्री स्वतंत्र देव सिंह का दो दिवसीय जनपद भ्रमण कार्यक्रम प्रस्तावित होने के बाद एकबार फिर से टल गया है। जारी किए गए प्रोटोकॉल के हिसाब से वह  1 सितंबर से 2 सितंबर तक जिले में प्रवास करने वाले थे। 

 बताया जा रहा है कि चंदौली जिले में इसके पहले भी उनका कार्यक्रम निर्धारित किया गया था, जिसे अंतिम समय में रद्द कर दिया गया था। उसके बाद अब फिर से मंडल के प्रभारी मंत्री स्वतंत्र देव सिंह का चंदौली जनपद में दो दिवसीय भ्रमण कार्यक्रम निर्धारित किया गया और रात में उसको रद्द करने का आदेश आ गया। 

letter

कार्यक्रम के अनुसार जल शक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह दो दिन जनपद भ्रमण कार्यक्रम के तहत एक सितंबर गुरुवार की दोपहर एक बजे मुख्यालय स्थित पीडब्लूडी गेस्ट हाउस पहुंचना था। इसके बाद पौने दो बजे नगर पंचायत के अम्बेडकर नगर मलिन बस्ती का भ्रमण करने के साथ ही सहभोज कार्यक्रम में सम्मिलित होने के साथ साथ पीएम स्वनिधि योजना के रेहडी व पटरी व्यवसाइयों के संवाद स्थापित करना था।

जल शक्ति मंत्री सवा तीन बजे नियामताबाद ब्लाक के कुंडलिया ग्राम में जल जीवन मिशन के तहत जल उत्सव कार्यक्रम में सम्मिलित होने,  नियामताबाद में अमृत सरोवर, प्राथमिक विद्यालय व आंगनबाड़ी केंद्र का निरीक्षण करने,  सवा चार बजे के करीब बौरी ग्राम पंचायत में जनचौपाल में ग्रामीणों की समस्या सुनने की योजना थी। साथ ही हर घर नल की परियोजना का भौतिक सत्यापन करके वह 5 बजकर 50 मिनट पर चकिया में समाज कल्याण से संचालित आश्रम पद्धति विद्यालय का निरीक्षण करना था। 

इसके बाद सितंबर को सुबह आठ बजे के करीब पार्टी कार्यालय पर जनप्रतिनिधियों और पदाधिकारियों संग बैठक करने का प्लान था। इसके बाद बाढ़ प्रभावित कुंडा खुर्द गांव का स्थलीय निरीक्षण करने जाना था। साथ ही भोगवारा में ड्रग वेयर हाउस और कठौरी कला में गोवंश आश्रय स्थल का जायजा लने के साथ साथ दोपहर में सैयदराजा-जमानियां मार्ग पर बन रहे उपरिगामी सेतु निर्माण कार्य, चारी पम्प कैनाल, बरहनी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण करने के बाद साढ़े चार बजे एक जनपद एक उत्पाद से जुड़े उद्यमियों के साथ कलक्ट्रेट में संवाद स्थापित किया जाना था। साथ ही केंद्र व राज्य सरकार की सभी योजनाओं व कानून व्यवस्था की समीक्षा और सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग एवं नमागि गंगे व ग्रामीण जलापूर्ति विभाग के साथ बाढ़ संबंधी योजनाओं की समीक्षा भी करना था।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*