जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
अब बढ़ने लगी है ट्रेनों में यात्रियों की संख्या, रेलवे की कमाई में भी इजाफा
कोरोना का संकट कम होने से दिखा फर्क, रिजर्वेशन कराने वालों की संख्या बढ़ी, जानिए क्या कह रहे हैं पं. दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन के आंकड़े
 

पं. दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन पर पर बढ़ रहे रेलयात्री

पहले की अपेक्षा बढ़ने लगी रेलवे की आमदनी

कोरोना के भय के बाद ट्रेनों में यात्रा करने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है। पं. दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन पर मई में रेल यात्रियों की संख्या बढ़ी है। रेल यात्रियों की संख्या कोरोना के पूर्व वाली स्थिति में आ गई है। वहीं आय भी इसी हिसाब से बढ़ी है। कोरोना काल में ऑन लाइन टिकट लेने की वालों की संख्या बढ़ने के बाद भी वर्ष 2019 के यात्रियों की संख्या की बराबरी 2022 में हो गई है।

हावड़ा दिल्ली रूट पर अतिव्यस्त पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन पर प्रतिदिन बीस से 22 हजार यात्री ट्रेनों पर सवार होते हैं और उतरते हैं। बुकिंग काउंटर की बात करें तो यहां से प्रतिदिन औसतन छह सौ यात्री रिजर्वेशन कराते हैं। इसके दोगुना यात्री आन लाइन टिकट बुक कराते हैं। 

23 मार्च 2020 को कोरोना के कारण देश में लॉकडाउन हो गया और ट्रेनों का परिचालन भी रोक दिया गया। बाद में ट्रेनों का परिचालन शुरू हुआ और जनरल कोच में भी सेकेंड सीटिंग के नाम पर टिकट बुकिंग शुरू हुई बावजूद इसके पूर्व वाली स्थिति अब पहुंची है।

यदि सिर्फ प्रति वर्ष मई माह में ट्रेनों में टिकटों की बुकिंग की स्थिति देखे तों कोरोना के पूर्व वर्ष 2019 में पीडीडीयू जंक्शन से 19,544 यात्रियों ने रिजर्वेशन कराया। इससे 94.32 लाख 845 रुपये की आय हुई। वर्ष 2020 में कोराना की वजह से ट्रेनों के बंद होने से यात्री न के बराबर रह गए। मई माह में स्पेशल ट्रेनों में मात्र 1023 यात्रियों ने रिजर्वेशन कराकर यात्रा की। वर्ष 2021 में ट्रेनें चल रही थी। बावजूद इसके मई माह में मात्र 3920 यात्रियों ने रिजर्वेशन कराकर यात्रा की। वहीं वर्ष 2022 में मई माह में 19,386 यात्रियों ने रिजर्वेशन कराया है। इससे 1.03 करोड़ 12 हजार 92 रुपये की आय हुई है।

इस तरह देखा जाय तो स्टेशन पर यात्रियों की संख्या वर्ष 2019 के मुकाबले इस वर्ष 158 कम है लेकिन वर्ष 2019 के 08.79 लाख 247 रुपये अधिक की आय हुई है। यदि औसत की स्थिति देखे तो पीडडीयू जंक्शन पर वर्ष 2017-18 में पूरे वर्ष औसतन 21308 बुकिंग हुई, जबकि प्रतिदिन औसतन 710 लोगों ने रिजर्वेश कराया। इसी तरह 2018-19 में 20,457 प्रतिमाह जबकि प्रतिदिन औसतन 682, वर्ष 2019-20 में 18,464 प्रतिमाह और प्रतिदिन 615, वर्ष 2020-21 में औसतन 7462 तथा प्रतिदिन 248, वर्ष 201-22 में प्रतिमाह 15,709 जबकि प्रतिदिन 524 यात्रियों ने रिजर्वेशन कराया। 

इस संबंध में चीफ रिजर्वेशन सुपरवाइजर आरबी राम ने बताया कि ट्रेनों का परिचालन सामान्य होने के बाद यात्रियों की संख्या बढ़ी है। इससे रेलवे की आय भी बढ़ती दिखायी दे रही है।


 

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*