जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
अब ऑक्सीटॉसिन के अवैध कारोबार पर अफसरों की नजर, सकलडीहा में छापेमारी
चंदौली जिले के सकलडीहा इलाके में परचून और खली चोकर की दुकानों पर धड़ल्ले से प्रतिबंधित दवा (ऑक्सीटॉसिन) बेची जा रही है। इसकी जानकारी होने पर शुक्रवार को ड्रग इंस्पेक्टर और खाद्य सुरक्षा विभाग की संयुक्त टीम ने कस्बे में छापेमारी कर भारी मात्रा में प्रतिबंधित दवा पकड़ा है और पकड़े गए माल को सील करते हुए जांच के लिये भेज दिया गया है
 
छापेमारी से दुकानदारों में खलबली मची हुयी है

चंदौली जिले के सकलडीहा इलाके में परचून और खली चोकर की दुकानों पर धड़ल्ले से प्रतिबंधित दवा (ऑक्सीटॉसिन) बेची जा रही है। इसकी जानकारी होने पर शुक्रवार को ड्रग इंस्पेक्टर और खाद्य सुरक्षा विभाग की संयुक्त टीम ने कस्बे में छापेमारी कर भारी मात्रा में प्रतिबंधित दवा पकड़ा है और पकड़े गए माल को सील करते हुए जांच के लिये भेज दिया गया है। विभाग की औचक छापेमारी से दुकानदारों में खलबली मची हुयी है।

शासन की ओर से प्रतिबंधित दवाओं के बिक्री पर रोकथाम को लेकर अभियान चलाया जा रहा है। इस क्रम में जिलाधिकारी संजीव सिंह के निर्देश पर ड्रग और खाद्य सुरक्षा विभाग की संयुक्त टीम ने मुखबिर की सूचना पर कस्बा के एक परचून की दुकानपर छापेमारी किया। जहां दो बोरे में ऑक्सीटॉसिन की प्रतिबंधित दवा मिलने पर जब्त करते हुए सीज कर दिया गया।

कहा जा रहा है कि इसके अलावा टीम ने सकलडीहा नहर के समीप एक परचून सहित अन्य दुकानों की जांच पड़ताल की गयी, जहां कोई सामान बरामद नहीं होने पर टीम वापस लौट गयी।

 इस बारे में जानकारी देते हुए ड्रग इंस्पेक्टर रमेश लाल गुप्ता ने बताया कि प्रतिबंधित दवा (ऑक्सीटॉसिन) की खुलेआम सार्वजनिक रूप से बिक्री पर रोक है। डॉक्टर की बगैर अनुमति बेचना गलत है। 

इस मौके पर खाद सुरक्षा अधिकारी सच्चिदानंद राय, मनोज सिंह सहित अन्य मौजूद थे और कहा कि यह अभियान आगे भी जारी रहेगा।