जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
3 अगस्त को चेन्नई जाएगी पुलिस की टीम, इंडियन बैंक के सीईओ व अन्य अफसरों से होगी पूछताछ
एक सप्ताह के भीतर मामले में ठोस पहल और कार्रवाई न होने पर 1 अगस्त से एसपी कार्यालय में अनशन व भूख हड़ताल करने का ऐलान किया।
 

बैंक के आला अफसरों के खिलाफ 3 मुकदमे दर्ज

गलत जानकारी देने पर अन्य के खिलाफ होगी कार्रवाई

चंदौली जिले में आज इंडियन बैंक के पीड़ित लॉकरधारियों मे पुलिस अधीक्षक से मुलाकात करके बैंक प्रबंधन के खिलाफ दर्ज धोखाधड़ी व अमानत में खयानत के 3 मुकदमे में तेजी से कार्रवाई न होने पर नाराजगी जतायी और एक सप्ताह के भीतर मामले में ठोस पहल और कार्रवाई न होने पर 1 अगस्त से एसपी कार्यालय में अनशन व भूख हड़ताल करने का ऐलान किया। इस पर पुलिस अधीक्षक ने इंडियन बैंक के हेडक्वार्टर पर एक पुलिस टीम भेजकर मामले में अभियुक्तों के खिलाफ पूछताछ व कार्यवाही शुरू करने की बात कही है।

  
पुलिस अधीक्षक अंकुर अग्रवाल ने लॉकरधारियों से कहा कि अगले सप्ताह 3 अगस्त को चंदौली पुलिस की एक टीम वरिष्ठ उप निरीक्षक के नेतृत्व में चेन्नई जाएगी और वहां इंडियन बैंक के हेडक्वार्टर में संबंधित अधिकारियों के साथ पूछताछ और अन्य आवश्यक कानूनी कार्यवाही करेगी। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि बैंक के अधिकारी जानबूझकर इस मामले में हीला हवाली कर रहे हैं और बैंक को इंश्योरेंस के जरिए मुआवजे का भुगतान करना है। अगर बैंक के आला अधिकारी चाहेंगे तो इस मामले को जल्द से जल्द सुलझा लिया जाएगा अन्यथा पुलिस पीड़ित लॉकरधारियों के द्वारा दी गई तहरीर और दर्ज मुकदमे में नियमानुसार कार्यवाही करेगी।

 इसके पहले पीड़ित लॉकरधारियों ने पुलिस अधीक्षक को एक ज्ञापन सौंपा और पुलिस द्वारा बरती जा रही लापरवाही व हीलाहवाली के खिलाफ 7 बिंदुओं पर अपनी मांग रखी। पुलिस अधीक्षक ने सभी मामले में पहल करने का आश्वासन दिया और कहा कि पुलिस की ओर से लॉकरधारियों की हर संभव मदद की जाएगी। वहीं लॉकरधारियों ने रहा कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो  लॉकरधारी अन्नजल त्यागकर 1 अगस्त 2022 से दोपहर 12 बजे से एसपी कार्यालय परिसर में शांतिपूर्वक बैठकर मौन धरना देंगे। 

SP Chandauli Indian Bank

आपको बता दें कि चंदौली कोतवाली में अपराध संख्या 87/2022, 165/2022 और 166/2022 दर्ज हो गया है, जिसमें सीईओ व प्रबंध निदेशक शांतिलाल जैन, एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर अमीन सिद्दिकी व अश्विनी कुमार, महाप्रबंधक पंकज त्रिपाठी, बैंक के क्षेत्रीय मैनेजर, जोनल मैनेजर, तत्कालीन शाखा प्रबंधक योगेन्द्र राम के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

पुलिस अधीक्षक से इन बातों पर जतायी गयी नाराजगी....

1. डकैती के बाद बैंक परिसर की की गयी वीडियो रिकॉर्डिंग आज तक नहीं दिखायी गयी, जबकि आपके द्वारा इस बात का आश्वासन पहली मीटिंग में सबके सामने दिया गया था।
2. पुलिस के द्वारा किए गए खुलासे व बरामदगी से हम लोग अभी तक संतुष्ट नहीं है..यह केवल खानापूर्ति जैसी है। आप लोग अब इस मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिए हैं। पुलिस ने न तो अब तक यह बताया कि लोगों के द्वारा क्लेम के आधार पर कितनी बड़ी डकैती थी और कितना संतोषजनक खुलासा और बरामदगी है।
3. डकैती की घटना के बाद दर्ज मुकदमा अपराध संख्या 33/2022 में बैंक की लापरवाही के सबूत मिले और बैंक प्रबंधन के खिलाफ चार्जशीट भी कोर्ट में दाखिल की गयी पर बैंक पर कोई कार्रवाई नहीं की गयी। कोर्ट में भी यह मामला काफी सुस्त गति से चल रहा है।
4. बैंक के द्वारा दी गयी क्लीन चिट व आपकी चार्जशीट के आधार पर हम लोगों की शिकायत दर्ज करके कोतवाली में 10 मई  को मुकदमा अपराध संख्या 87/2022 दर्ज तो कर लिया गया पर इसमें बैंक न तो पूछताछ हुयी और न ही इस मामले में अपनी ओर से इमानदारी से पहल की जा रही है। बैंक के अफसर कोतवाली में आकर बैठते हैं और इधर उधर की बातें करके चले जा रहे हैं।
5. हमारे द्वारा दिनांक 16 जुलाई 2022 को कटे और लुटे लॉकर का किराया वसूलने और लॉकर बंद गहनों को गायब करने के कारण  बैंक के प्रबंधन के खिलाफ दो और मुकदमे अपराध संख्या 165/2022 और 166/2022 लिखाए गए हैं, जिसमें एक सप्ताह से अधिक समय बीतने के बाद भी प्रगति शून्य है।  
6. मौजूदा बैंक प्रबंधक योगेन्द्र राम के द्वारा की जा रही लॉकरधारियों के साथ बदतमीजी व तमाम तरह की हरकतों के खिलाफ कोतवाल को शिकायत पत्र देकर हटाने की मांग की गयी थी, ताकि शांति व्यवस्था कायम रहे लेकिन इस मामले में भी कोई पहल नहीं की गयी।
7. आपने दिनांक 5 जुलाई 2022 को अपने आवास पर लॉकरधारियों से कहा था कि एक महीने के भीतर कोई अच्छी खबर देंगे और पुलिस की टीम बकरीद बाद चेन्नई जाकर आला अफसरों से पूछताछ करेगी, लेकिन इस मामले में भी कुछ नहीं हुआ।

हो गया बैंक मैनेजर का तबादला

लाकरधारियों से भिड़ना इंडियन बैंक के मैनेजर योगेन्द्र राम को भारी पड़ा। इंडियन बैंक ने आला अफसरों के खिलाफ दो मुकदमे दर्ज होते ही बैंक के मैनेजर पर कार्रवाई की है। बताया जा रहा है कि बैंक मैनेजर योगेन्द्र राम को चंदौली से गाजीपुर भेजा गया है और इंडियन बैंक की इस शाखा में नए मैनेजर की तैनाती की गयी है। नए मैनेजर ने आज बैंक में कामकाज भी संभाल लिया है।

SP Chandauli Indian Bank

आपको याद होगा कि 16 जुलाई को चंदौली कोतवाली में इंडियन बैंक के सीएमडी समेत अन्य आला अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था और तब से पुलिस भी बैंक पर शिकंजा कसने की कोशिश कर रही है।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*