जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
गोलीमार कर बाइक लूटने में पुलिस नाकाम, हटे कोतवाल तो सस्पेंड हो गए 'दारोगाजी'
व्यापारी को गोली मारकर बाइक लेकर भागने के मामले में दो सप्ताह बाद भी मामले का खुलासा नहीं होने पर लोगों के आक्रोश को देखते हुए पुलिस अधीक्षक अंकुर अग्रवाल ने दरोगा मनोज सिंह को सस्पेंड कर दिया।
 

कारोबारी को गोली मारने का मामला

उप निरीक्षक मनोज सिंह निलंबित

नए तैनात कोतवाल पर दबाव बढ़ा

चंदौली जिले के पुलिस कप्तान ने सकलडीहा कोतवाली के सघन तिराहा के समीप पिछले एक नवंबर की शाम बाइक सवार दो बदमाशों ने बिल्डिंग मैटेरियल कारोबारी को गोली मारने के मामले में अब तक कोई कार्रवाई न कर पाने व मामले का खुलासा न कर सकने वाले कोतवाल को हटाने के बाद इस इलाके के उप निरीक्षक मनोज सिंह को भी निलंबित कर दिया है।

व्यापारी को गोली मारकर बाइक लेकर भागने के मामले में दो सप्ताह बाद भी मामले का खुलासा नहीं होने पर लोगों के आक्रोश को देखते हुए पुलिस अधीक्षक अंकुर अग्रवाल ने दरोगा मनोज सिंह को सस्पेंड कर दिया। एसपी के इस कार्रवाई से पुलिस महकमे में खलबली होने के साथ साथ नए तैनात कोतवाल पर दबाव बढ़ गया है।

आपको याद होगा कि सकलडीहा कोतवाली क्षेत्र के तेन्दुईपुर गांव निवासी लालब्रत चौहान का दुर्गापुर एफसीआई गोदाम के सामने दयाल हेमंत इंटर प्राइजेज नाम से बिल्डिंग मैटेरियल की दुकान है। एक नवंबर की शाम को लगभग 6 बजे लालब्रत चौहान अपनी लाल रंग की बाइक से घर जा रहा था। चहनियां की ओर से आ रहे बाइक सवार बदमाशों ने दुर्गापुर तिराहा के समीप कारोबारी से मारपीट करते हुए गोली मारकर अपनी चोरी की बाइक छोड़ कारोबारी की बाइक लूट कर भाग गये। 

इसके बाद घटना स्थल पर पहुंचे एसपी अंकुर अग्रवाल ने मामले का खुलासा करने के लिये टीम गठित कर बदमाशों को पकड़ने का निर्देश दिया। दो सप्ताह बाद भी सर्विलांस टीम से लेकर क्राइम ब्रांच और कोतवाली पुलिस लुटेरों का सुराग नहीं लगा पायी है।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*