जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
चंदौली जिले में 2.46 लाख बच्चों को विटामिन ए की खुराक देने की तैयारी, बाल विकास करेगा सहयोग
करीब 2.46 लाख बच्चों को विटामिन ए की खुराक पिलाई जाएगी। इससे बच्चों की रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ेगी। साथ ही आयरन की कमी दूर होगी।
 

नौ माह से पांच साल तक के बच्चों को विटामिन-ए की खुराक

बच्चों की रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का प्रयास

रतौंधी से मिलेगी सुरक्षा व शिशु मृत्यु दर में आएगी कमी 

चंदौली जनपद में नौ माह से पांच साल तक के बच्चों को विटामिन-ए की खुराक देने के लिए 3 अगस्त से बाल स्वास्थ्य पोषण माह मनाया जाएगा। इस दौरान करीब 2.46 लाख बच्चों को विटामिन ए की खुराक पिलाई जाएगी। इससे बच्चों की रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ेगी। साथ ही आयरन की कमी दूर होगी। इसके अलावा रतौंधी से सुरक्षा मिलेगी और शिशु मृत्यु दर में भी कमी आएगी।

इस बारे में जानकारी देते हुए एसीएमओ डा. आरबी शरण ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार जिले में बाल स्वास्थ्य पोषण माह की पूरी तैयारी कर ली गई है। यह अभियान साल में दो बार चलाया जाता है। इसमें नौ माह से पांच साल तक के बच्चों को बीमारियों से बचाने के लिए विटामिन ए से लाभान्वित किया जाएगा। टीकाकारण सत्रों में ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण दिवस (वीएचएसएनडी) व शहरी स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण दिवस (यूएचएसएनडी) के दौरान नौ माह से पांच वर्ष तक के बच्चों को निर्धारित मात्रा में विटामिन ए की खुराक पिलाई जाएगी। इसके लिए सभी स्वास्थ्य केन्द्रों पर पर्याप्त मात्रा में विटामिन ए भेज दी गई है। 

vitamin a

अभियान के तहत बच्चों का वजन लेना, एक घंटे के अंदर और छह माह तक सिर्फ स्तनपान, उसके बाद स्तनपान के साथ अनुपूरक अर्ध ठोसाहार, गर्भवती को आयोडीन युक्त की नमक के सेवन के प्रति जागरूक करना है। बच्चों के नियमित टीकाकरण पर भी जोर दिया जाएगा।

जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. वाईके राय ने कहा कि बाल स्वास्थ्य पोषण माह अभियान की सफलता के लिए बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग से भी सहयोग लिया जाएगा। कुपोषित बच्चों को चिह्नित कर चिकित्सीय सुविधा एवं परामर्श प्रदान किया जाएगा।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*