जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
सब्जी तोड़ रही पार्वती को मगरमच्छ ने दबोचा, मौत के बाद शव को सहदुल्लापुर तिराहे पर रखकर किया चक्का जाम

भीषमपुर गांव के कुसुम्भर पहाड़ी के समीप खेत में बुधवार की सुबह पार्वती देवी 46 वर्ष पत्नी जग्गू सोनकर के ऊपर चंद्रप्रभा नदी से निकलकर एक मगरमच्छ ने हमला बोल दिया। देखते ही देखते मगरमच्छ महिला को जबड़े में दबोच कर नदी के बीच में लेकर चला गया। जिससे महिला की दर्दनाक मौत हो गई।

 

सब्जी तोड़ रही पार्वती को मगरमच्छ ने दबोचा। 

मौत के बाद शव को सहदुल्लापुर तिराहे पर रखकर ग्रामीणों ने किया चक्का जाम। 

चंदौली जिले के चकिया कोतवाली अंतर्गत भीषमपुर गांव के कुसुम्भर पहाड़ी के समीप खेत में बुधवार की सुबह पार्वती देवी 46 वर्ष पत्नी जग्गू सोनकर के ऊपर चंद्रप्रभा नदी से निकलकर एक मगरमच्छ ने हमला बोल दिया। देखते ही देखते मगरमच्छ महिला को जबड़े में दबोच कर नदी के बीच में लेकर चला गया। जिससे महिला की दर्दनाक मौत हो गई।

Chakka jaam

आपको बता दें कि पार्वती देवी के चीखने चिल्लाने की आवाज पर ग्रामीणों ने नदी के चारों तरफ जाल लगाकर मगरमच्छ को पकड़ने का प्रयास किया, लेकिन मगरमच्छ बीच नदी में महिला का शव छोड़कर भाग गया। ग्रामीणों ने मृत हालत में महिला के शव को नदी से बाहर निकाल कर चारपाई पर लादकर सहदुल्लाहपुर बस स्टैंड के पास ले आए और चकिया पीडीडीयू नगर मुख्य मार्ग पर चक्का जाम कर दिया।

Chakka jaam

सूचना मिलते ही नदी के पास ग्रामीणों की भारी भीड़ जुट गई। तब तक चकिया कोतवाली पुलिस भी मौके पर पहुंच गयी और शव कब्जे में लेने की बात करने लगे मगर ग्रामीण नहीं माने और सैकड़ों की भीड़ के बीच चारपाई पर महिला के शव को लादकर चकिया नगर के समीप सहदुल्लापुर तिराहे के पास चकिया पीडीडीयू नगर मुख्य मार्ग पर शव को रखकर मौके पर डीएम के आने की मांग पर अड़ गए।

 चक्का जाम के चलते मार्ग अवरुद्ध होने से यातायात बुरी तरह प्रभावित हो गई है। उधर यात्री धूप में बिलबिलाये हुए हैं। वही ज्वाइंट मजिस्ट्रेट प्रेम प्रकाश मीणा मौके पर पहुंचकर ग्रामीणों को समझाने बुझाने के प्रयास में जुटे हुए हैं। लेकिन ग्रामीण मौके पर जिलाधिकारी के आने की मांग पर अड़े हुए हैं।