जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
खानापूर्ति के लिए यूपी बिहार बॉर्डर पर गायब रहकर जांच चौकी चलाते हैं विभागीय अफसर
चंदौली जिले के यूपी बिहार बॉर्डर नौबतपुर में आबकारी विभाग का जांच चौकी बनाई गई है जो कि केवल बोर्ड और टेंट के सहारे चलती है।
 

UP Bihar Naubatpur Border

चेकिंग ड्यूटी से गायब रहते हैं अफसर

कैमरे में कैद हो गया है सारा नजारा 

चंदौली जिले के यूपी बिहार बॉर्डर नौबतपुर में आबकारी विभाग का जांच चौकी बनाई गई है जो कि केवल बोर्ड और टेंट के सहारे चलती है। यहां कोई पुलिस व विभाग का कोई कर्मचारी काम करते नहीं देखा जाता है। ऐसा लगता है कि चेकिंग के नाम पर कोरमपूर्ति करने के लिए इस तरह का काम किया जा रहा है, जिसका नजारा आप खुद ही देख सकते हैं।

बताते चलें कि होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए उत्तर प्रदेश की सीमा पर आबकारी विभाग की एक्साईज जांच चौकी नौबतपुर चंदौली में स्थापित की गई है, जिस पर एक इंस्पेक्टर व दो सिपाही आबकारी विभाग से तथा पुलिस विभाग से भी एक सब इंस्पेक्टर व दो सिपाही तैनात किए गए हैं। लेकिन एक्साइज जांच चौकी पर केवल एक टेंट लगा हुआ दिखाई दिया और उसके सामने टेबल रखी हुई थी। जहां न तो आबकारी विभाग के स्टाफ दिखाई दिए और ना ही पुलिस के।


 जब इस संबंध में जिला आबकारी अधिकारी से फोन वार्ता हुई तो उन्होंने बताया कि तीन शिफ्ट में इस जांच चौकी पर फोर्स तैनात की गई है। जिसमें आबकारी विभाग से एक इंस्पेक्टर तथा दो सिपाही और पुलिस विभाग से भी एक सब इंस्पेक्टर दो सिपाही तैनात किए गए हैं। जिनके लिए 6:00 से 2:00 तक महिला इंस्पेक्टर संगीता जायसवाल तथा दो सिपाही, 2 से रात्रि 10 तक जिले के इंस्पेक्टर शरद कुमार तथा दो सिपाही और रात्रि 10:00 बजे से लेकर सुबह 6:00 बजे तक वाराणसी के इंस्पेक्टर सहित दो सिपाही की ड्यूटी लगाई गई है। 

जब उस समय मौके की हालत बतायी गयी तो उन्होंने यह कहा ति सुबह 6:00 बजे से लेकर 2:00 बजे तक की शिफ्ट में इंस्पेक्टर संगीता जायसवाल के साथ दो सिपाही लगाए गए हैं। यदि वह अनुपस्थित हैं, तो उन सभी लोगों से स्पष्टीकरण मांगा जाएगा एवं जांच कर मामले में कार्रवाई की जाएगी।