जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
पीएम सम्मान निधि के लिए कार्यालयों का चक्कर काट रहे किसान, ऑनलाइन पंजीकरण की वेबसाइट है बंद
 


चंदौली जिले में ऑनलाइन प्रक्रिया बंद होने के चलते केंद्र सरकार द्वारा संचालित पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत नए किसानों का पंजीयन अधर में लटक गया है। वेबसाइट पर ऑनलाइन पंजीकरण की प्रक्रिया को पिछले पांच माह से बंद कर दिया गया है। ऐसे में पात्रता होने के बाद भी कई किसान सरकारी कार्यालयों का चक्कर लगाने को मजबूर हैं। लेकिन उनकी फरीयाद सुनने वाला कोई नहीं है।


बताते चलें कि पीएम किसान योजना के तहत जिले में दो लाख से अधिक किसानों को प्रत्येक वर्ष छह हजार रुपये उनके बैंक खाते में भुगतान किया जाता है। लेकिन अभी आठ हजार से अधिक ऑनलाइन आवेदनों का सत्यापन होना शेष है। जिनकी जांच के लिए कृषि विभाग के प्राविधिक सहायक और राजस्व लेखपालों को लगाया गया है। लेकिन किसी कारणवश योजना से वंचित किसानों का ऑनलाइन पंजीकरण कराने के विकल्प को लॉक कर दिया गया है। इसके चाहे जो भी वजह हो, लेकिन पात्रता होने के बाद भी किसानों को योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा। अफसर किसानों से अपनी गर्दन बचाने के लिए विभागीय तौर पर लिखा पढ़ी करने का बात करके टरका दे रहे है। जिससे किसानों को मायूसी का सामना करना पड़ रहा है। 


इस संबंध में कृषि उपनिदेशक विजेंद्र कुमार ने बताया कि किसान सम्मान निधि योजना के तहत जिले के दो लाख से अधिक किसानों को प्रत्येक चार माह पर दो हजार रुपये उनके बैंक खाते में भेजा जाता है। योजना का लाभ लेने के लिए नया पंजीकरण अभी नहीं हो रहा है। क्योकि विभागीय तौर पर वेबसाइट में पंजीयन के विकल्प को बंद किया गया है। वेबसाइट खुलने के बाद ही नया पंजीकरण हो सकेंगा। बताया कि फिरहाल योजना का लाभ पाने वाले किसानों का सत्यापन कराया जा रहा है। ताकि अपात्रों को चिन्हित किया जा सके ।