जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
मुख्यमंत्री की सुरक्षा में सेंध लगाने वालों से ऐसे निपटेगी पुलिस, है खास इंतजाम
आईजी भगत ने सभी को सख्त निर्देश दिए और कहे कि यदि कोई भी वीआईपी या अधिकारी मुख्यमंत्री व मंच के आसपास जाता है तो उसके साथ किसी भी प्रकार के वेपन हथियार नहीं होना चाहिए।
 

आईजी भगत ने का सख्त निर्देश

मुख्यमंत्री की सुरक्षा में सबकी चेकिंग जरूरी

सपा के लिए खास प्लान और तैयारी

चंदौली जिले में मुख्यमंत्री की सुरक्षा में सेंध लगाना किसी के लिए आसान नहीं होगा, क्योंकि पुलिस ने अपनी ओर से ठोस तैयारी की है। किसान अंदोलन व सपा के नेताओं के रुख को भांपते हुए पुलिस ने पहले से कुछ खास इंतजाम कर रखे हैं।

CM Yogi Security Chandauli


सीएम के आगमन की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर जनपद में कुल 5 अपर पुलिस अधीक्षक, 10 डिप्टी एसपी के साथ साथ 50 निरीक्षक व 125 उपनिरीक्षक तैनात किए जा चुके हैं। उसके साथ-साथ 500 से अधिक जवान लगाए गए हैं, जिसके लिए आईजी द्वारा सख्त निर्देश है कि कार्यक्रम में व्यवधान पैदा करने वालों पर विशेष नजर रखी जाएगी।

  cm yogi public meeting

 बताते चलें कि आईजी एस के भगत ने सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते हुए कहा कि सुरक्षा व्यवस्था में किसी प्रकार की चूक नहीं होनी चाहिए। चाहे उसके लिए अपने ही सिपाही या अधिकारी के साथ सख्ती क्यों न करनी पड़े। हर एक संदिग्ध व संदेहास्पद वस्तु पर सबकी पैनी नजर होनी चाहिए।

पुलिस अधिकारी ने यह भी बताया कि सुरक्षा व्यवस्था को लेकर सारी जिम्मेदारी हम लोगों की है इसलिए पार्टी दल के नेता भी अगर किसी प्रकार के व्यवधान पैदा कर रहे हैं तो उस संबंध में जिला अधिकारी को सूचित करें तथा अधिकारी एवं जवान अपने कर्तव्यों का पालन करने के लिए हमेशा तत्पर रहें।

CM yogi coming for chandauli Medical College

 आईजी भगत ने सभी को सख्त निर्देश दिए और कहे कि यदि कोई भी वीआईपी या अधिकारी मुख्यमंत्री व मंच के आसपास जाता है तो उसके साथ किसी भी प्रकार के वेपन हथियार नहीं होना चाहिए। यह सख्त निर्देश रहे कि किसी के पास संदिग्ध चीज दिखे तो तत्काल सक्रिय होकर कार्रवाई करें।

CM Yogi Security Chandauli

 वहीं सुरक्षा व्यवस्था की विशेष जांच के लिए एलआईयू व सुरक्षा बल की अन्य टीमें भी मौजूद रहेंगी। वहीं समाजवादी पार्टी के नेताओं व कार्यकर्ताओं पर आईजी का विशेष निर्देश था कि समाजवादी पार्टियों एवं ऐसे लोग जो कार्यक्रम में बाधा उत्पन्न कर सकते हैं। उन्हें जगह जगह पर ही रोक दिया जाए तथा उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही भी की जाए। इसके लिए अलग से टीम भी गठित की गई है, जो कि सादे वर्दी में क्षेत्र में भ्रमण कर रही है और ऐसे लोगों पर नजर रख रही है।