जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
चंदौली जिले में कहां-कहां जल रहे अलाव, लिस्ट जारी करे जिला प्रशासन : सपा नेता बिरेन्द्र बिंद
चंदौली जिले में लगातार बढ़ रही ठंड और सार्वजनिक स्थानों पर अलाव की कमी को देखकर लोगों में चिंता है। लोगों का कहना है कि प्रशासनिक अधिकारी इसकी तरफ ध्यान नहीं दे रहे हैं।
 

कागजों पर जल रहे हैं अलाव

बाजारों में ठंड से ठिठुर रहे हैं लोग

ऐसा लगता है सो रहे हैं जिम्मेदार अफसर

लिस्ट जारी करे जिला प्रशासन : सपा नेता बिरेन्द्र बिंद
 

चंदौली जिले में लगातार बढ़ रही ठंड और सार्वजनिक स्थानों पर अलाव की कमी को देखकर लोगों में चिंता है। लोगों का कहना है कि प्रशासनिक अधिकारी इसकी तरफ ध्यान नहीं दे रहे हैं। इससे चंदौली जिले के लोग ठंड से ठिठुर रहे हैं और प्रशासन के साथ साथ सत्तापक्ष के नेताओं को कोस रहे हैं। साथ ही साथ जिलाधिकारी से कह रहे हैं कि जिला प्रशासन, तहसील प्रशासन व नगर निकायों को अलाव जलाने वाले स्थानों की सूची सार्वजनिक करनी चाहिए।

 आमतौर पर कड़ाके की ठंड के समय सार्वजनिक स्थानों पर अलाव जलाने की व्यवस्था प्रशासन के द्वारा की जाती थी, जहां पर लोग आते जाते ठंड से निजात पाने की कोशिश करते थे। लेकिन अब ऐसी नहीं दिखाई दे रहा है। ऐसा लगता है कि या तो प्रशासन को योगी सरकार ने इसके लिए बजट नहीं दिया है या फिर कागजों में जलाया जा रहा है।

 नौगढ़ तहसील इलाके में लोग इसको लेकर जिला और तहसील प्रशासन को कोस रहे हैं। कहा जा रहा है कि ग्रामीण इलाकों में अभी तक अलाव कोई व्यवस्था नहीं की जा रही है। दुकानदारों तथा राहगीरों के लिए सार्वजनिक स्थानों पर चलने वाला अलाव अबकी बार नहीं दिखाई दे रहा है। शुरुआती दौर में प्रशासन की ओर से दिखावे के लिए बाघी बाजार में दो जगह अलाव की व्यवस्था कर दी गई थी, लेकिन अब उसे बंद कर दिया गया है। 

Heavy Cold and Fog No Alao

कुछ ऐसा ही हाल धानापुर के इलाके में दिखाई दे रहा है, जहां कड़ाके की ठंड और कोहरे के बाद चट्टी चौराहों पर जलने वाला अलग केवल कागजों में जलाया जा रहा है। लोग अपने स्थानीय स्तर से पुआल, गोबर के कंडे, धान की भूसी जलाकर ठंड से निजात पाने की कोशिश कर रहे हैं।

 सैयदराजा, कमालपुर, सकलडीहा, बबुरी, चहनियां बाजारों में कुछ इसी तरह का हाल देखा जा रहा है। इक्का-दुक्का जगहों पर स्थानीय लोगों की मदद से अलाव जलाए गए हैं, लेकिन ऐसा लगता है कि अलाव के जलाने के मामले में प्रशासन अभी तक सक्रिय नहीं हुआ है। 

सपा नेता बिरेन्द्र कुमार बिंद का कहना है कि जिला प्रशासन को उन सभी स्थानों की लिस्ट जारी करनी चाहिए, जहां जहां अलाव जलवाने का आदेश है। क्षेत्र में भ्रमण के दौरान लोगों के ठिठुरते देख जिला प्रशासन पर सवाल उठता है।