जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
वाह रे मुगलसराय पुलिस : न मुनादी न वीडियो रिकॉर्डिंग, BJP नेता के घर चुपके से कुर्की की नोटिस
महेंद्र नाथ पांडेय के प्रतिनिधि और भारतीय जनता पार्टी के बड़े नेताओं में शुमार किए जाने वाले नेता के घर मुगलसराय पुलिस ने कुर्की की नोटिस चिपका कर हड़कंप मचा दिया है।
 

BJP नेता के घर कुर्की की नोटिस

मुगलसराय पुलिस ने की कार्रवाई 

भाजपा नेता पर आपराधिक मुकदमे दर्ज

चंदौली जिले के सांसद और मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय के प्रतिनिधि और भारतीय जनता पार्टी के बड़े नेताओं में शुमार किए जाने वाले नेता के घर मुगलसराय पुलिस ने कुर्की की नोटिस चिपका कर हड़कंप मचा दिया है। गवाहों और परिवार वालों की मौजूदगी में बीजेपी के रसूखदार नेता को नोटिस थमाते हुए यह कार्यवाही की गई है।

वैसे तो आमतौर पर कुर्की की नोटिस चस्पा करते समय पुलिस मुनादी और वीडियो रिकॉर्डिंग जैसा कार्य भी कराया करती है, लेकिन अबकी बार भारतीय जनता पार्टी के नेता से कनेक्शन जुड़ा होने के कारण गुपचुप तरीके से नोटिस तामील करा कर वापस लौट गई है।


 

Shiv Shankar Patel Notice mughalsarai kotwali police


एक जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश पिछड़ा वर्ग आयोग के पूर्व सदस्य और मुगलसराय विधानसभा में सांसद के प्रतिनिधि के रूप में कार्य कर रहे शिव शंकर सिंह पटेल को मुगलसराय थाना की जलीलपुर पुलिस चौकी के सिपाहियों ने घर पहुंच कर विशेष न्यायाधीश एमपी एमएलए कोर्ट इलाहाबाद की ओर से जारी कुर्की नोटिस को चस्पा करने के साथ-साथ परिवार के सदस्यों को नोटिस पकड़ा दी है। 


आपको बता दें कि भाजपा नेता पर एक पुराने मामले में गंभीर आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। इस मामले में शिव शंकर पटेल को न्यायालय के समक्ष उपस्थित होकर अपना पक्ष रखना था, लेकिन वह वहां उपस्थित नहीं हुए। लिहाजा कोर्ट की ओर से कुर्की की कार्यवाही की गई है। 

Shiv Shankar Patel Notice mughalsarai kotwali police

आपको बता दें कि भाजपा नेता शिव शंकर पटेल पर पूर्व में भी कई आपराधिक मामले दर्ज हैं और इनको सांसद और केंद्रीय मंत्री डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय का काफी करीबी माना जाता है। शिव शंकर पटेल फिलहाल मुगलसराय विधानसभा से भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ने की भी तैयारी कर रहे हैं और पूरे इलाके में जोरदार तरीके से पोस्टर और बैनर लगाकर अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं।

 फिलहाल सांसद और मंत्री के करीबी इस नेता के घर कुर्की का नोटिस चस्पा करने में पुलिस वालों के भी पसीने छूट गए, लेकिन कोर्ट के आदेश के बाद उनको ऐसा करना लाजमी हो गया था। आमतौर पर पुलिस इस तरह की कार्यवाही की फोटो जारी करती है और सोशल मीडिया पर तरह तरह से अपना प्रचार प्रसार करती है, लेकिन इस कार्यवाही के बाबत एक फोटो तक भी नहीं मुहैया करा रही है।

 मामले में मुगलसराय थाने के प्रभारी संजीव मिश्रा ने कहा है कि न्यायालय के आदेश पर गवाहों की उपस्थिति में शिव शंकर पटेल के घर के लोगों को नोटिस थमा दी गयी है। मुनादी व रिकॉर्डिंग इसीलिए नहीं करायी गयी है। कोर्ट के आदेश के हिसाब से कार्यवाही की जा रही है।