जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
जिले की दो बड़ी राजनीतिक हस्तियों को माल्यार्पण करके मनोज सिंह ने लिया आशीर्वाद
चंदौली जिले में विधानसभा चुनाव को लेकर हर एक दल का नेता और पार्टी का कार्यकर्ता तरह-तरह की अटकलें लगा रहा है और अपने पार्टी के नेताओं पर नजर बनाए हुए हैं।
 

आखिर कमलापति त्रिपाठी व गंजी प्रसाद की मूर्ति पर माल्यार्पण

राजनीतिक संदेश देना चाह रहे मनोज सिंह डब्लू

चंदौली जिले में विधानसभा चुनाव को लेकर हर एक दल का नेता और पार्टी का कार्यकर्ता तरह-तरह की अटकलें लगा रहा है और अपने पार्टी के नेताओं पर नजर बनाए हुए हैं। चंदौली जिले में आज एक चर्चा जोरों पर रही कि आखिर सैयदराजा विधानसभा में समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव कौन लड़ेगा। इसको लेकर सारे दावेदार अपनी तरह से अपनी मजबूती दिखा रहे हैं।

शुक्रवार को लखनऊ से लौटते समय समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव और पूर्व विधायक मनोज कुमार सिंह डब्लू अचानक समाजवादी नेता और स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्वर्गीय गंजी प्रसाद की मूर्ति के साथ-साथ चंदौली के विकास पुरुष पंडित कमलापति त्रिपाठी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करते हुए जिस तरह से उनका आशीर्वाद लिया है और जिले में अपनी एक अलग तरीके से एंट्री की है, उससे एक बड़ा संदेश देने की कोशिश की है।

Manoj Singh W

हो सकता है कि यह उनकी इन दो महापुरुषों के प्रति आस्था हो, लेकिन इसका एक राजनीतिक संदेश भी जा सकता है, जो इस तरह से पार्टी के प्रदेश कार्यालय व लखनऊ के दौरे से आने के बाद देने की कोशिश की है। आज उनकी बॉडी लैंग्वेज देखकर तो यही लगता है कि अब कोई उनके मुकाबले में टिकटने वाला नहीं है।  

वहीं जब इस बारे में मनोज कुमार सिंह डब्लू से बातचीत की गई तो उनका कहना था कि चंदौली जिले में स्वर्गीय श्री गंजी प्रसाद जी और पंडित कमलापति त्रिपाठी का एक विशेष स्थान है। राजनेता अक्सर उनके आशीर्वाद के लिए उनके पास जाते हैं और उनको श्रद्धा सुमन अर्पित करते हैं। इसीलिए लखनऊ से लौटते समय हमने उनको माल्यार्पण करते हुए अपनी विधानसभा क्षेत्र में प्रचार प्रसार करने का फैसला किया है।

Manoj Singh W

आपको बता दें मनोज सिंह डब्लू सैयदराजा विधानसभा के पूर्व विधायक रहे हैं और 2012 के विधानसभा में निर्दलीय विधायक के रूप में चुनाव जीत कर अपना दमखम दिखा चुके हैं। वह अबकी बार एक बार फिर से समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*