जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
धानापुर इलाके में राजेश यादव व मनोज सिंह ने भी चलाई साइकिल, भरा कार्यकर्ताओं में जोश
चंदौली जिले में समाजवादी पार्टी के नेता कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिए साइकिल रैलियों का भी आयोजन करने लगे हैं।
 

धानापुर इलाके में राजेश यादव व मनोज सिंह ने भी चलाई साइकिल

भरा कार्यकर्ताओं में जोश
 

चंदौली जिले में समाजवादी पार्टी के नेता कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिए साइकिल रैलियों का भी आयोजन करने लगे हैं। सैयदराजा विधानसभा में समाजवादी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने साइकिल ने रैली निकालते हुए आधा दर्जन से अधिक गांव का दौरा किया और समाजवादी पार्टी के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश की।

 आपको बता दें कि सैयदराजा विधानसभा क्षेत्र के धानापुर इलाके के ओड़ारे गांव से सैकड़ों की संख्या में नौजवान और समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता साइकिल रैली लेकर निकल पड़े। यह रैली ओड़ारे गांव से शुरू होकर नौपूरा, सकरारी, कोहड़ा, अमादपुर, पगहीं, बड़ौरा, धानापुर, कुसम्हीं, बिझवल होते हुए ओड़ारे गांव में आकर खत्म हो गई। इस साइकिल रैली में पूर्व जिला पंचायत सदस्य राजेश कुमार यादव और पूर्व विधायक मनोज कुमार सिंह डब्लू ने भी युवाओं के साथ साइकिल चलाई तथा उनमें जोश भरने का कार्य किया है।

इस ठंड के मौसम में सपा के कार्यकर्ताओं का जोश व नारेबाजी देखकर गांव के लोगों के मुंह से अनायास निकलने लगा कि अबकी बार सरकार बदल जाएगी। 

 इस मौके पर राजेश यादव ने पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि अबकी बार 2022 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी को भारी मतों से जीत दिलाते हुए अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाने का कार्य करना है। इसके लिए अभी से सारे कार्यकर्ताओं को एकजुट होकर समाजवादी पार्टी के पक्ष में माहौल बनाना होगा।

 वहीं पर नौजवानों को संबोधित करते हुए मनोज कुमार सिंह डब्लू ने कहा कि डबल इंजन की सरकार फेल हो गई है तथा उसकी वजह से किसान और नौजवान दोनों परेशान हैं। किसान अपना धान नहीं बेच पा रहा है तथा नौजवानों के पास कोई काम नहीं है। अब की बार विधानसभा के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को सत्ता से बेदखल करके समाजवादी पार्टी की सरकार बनानी है, ताकि युवाओं की आकांक्षाओं को पूरा किया जा सके।


 इस मौके पर पूर्व विधायक मनोज कुमार सिंह डब्लू के अलावा पूर्व जिला पंचायत सदस्य राजेश कुमार यादव के साथ रामाश्रय यादव, विनोद यादव, अनिल यादव जैसे कई समाजवादी कार्यकर्ता और नेता शामिल थे।