जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
सर्वर न चलने से यूरिया के लिए दिनभर परेशान रहे किसान, सपा नेता की पहल से निकला बीच का रास्ता, मिल गयी सबको खाद
चंदौली जिले के शहाबगंज विकासखंड अंतर्गत सहकारी समिति लिमिटेड खरौझा पर यूरिया खाद आने की सूचना मिलते ही खाद लेने के लिए किसानों की लाइन गुरुवार की सुबह ही लग गई।
 

सर्वर न चलने से यूरिया के लिए दिनभर परेशान रहे किसान

सपा नेता की पहल से निकला बीच का रास्ता

मिल गयी सबको खाद
 

चंदौली जिले के शहाबगंज विकासखंड अंतर्गत सहकारी समिति लिमिटेड खरौझा पर यूरिया खाद आने की सूचना मिलते ही खाद लेने के लिए किसानों की लाइन गुरुवार की सुबह ही लग गई। सुबह 11 बजे तक समिति पर किसानों की काफी भीड़ जुट गई।

आपको बता दें कि घंटों लाइन में खड़ा होने के बाद भी सर्वर प्रॉब्लम रहने के कारण एक भी किसानों का अंगूठा नहीं लग पाया। जिसके कारण दोपहर तक किसी भी किसान को खाद नहीं मिल पाया। जानकारी होते ही केंद्र पर समिति के अध्यक्ष श्रीकांत कुशवाहा तथा जिला पंचायत सदस्य दशरथ सोनकर पहुंच गए। और समिति के कर्मचारी विनय कुमार सिंह से किसानों की खाद की समस्या के बावत बातचीत करके बीच का रास्ता निकाला और आधार कार्ड जमा कराकर किसानों को बगैर अंगूठा लगाए ही खाद उपलब्ध कराया। और अगले दिन अंगूठा लगाने पर आधार कार्ड वापस दिए जाने की बात कही। जिससे किसानों ने राहत की सांस ली।


  
इन दिनों गेहूं की फसल के लिए यूरिया खाद की मांग तेजी से बढ़ गई है। एक सप्ताह पूर्व समिति पर 999 बोरी यूरिया आई हुई थी जिसे कुछ किसानों को वितरित किया गया था। लेकिन मांग के अनुरूप यूरिया न मिलने से बहुत से किसान यूरिया खाद पाने से वंचित रह गए थे। गुरुवार को समिति पर पुनः यूरिया आने की सूचना मिलते ही किसानों का हुजूम सुबह 8 बजे ही समिति पर उमड़ पड़ा और खाद लेने के लिए किसान लाइन में लग गए। लेकिन दिन भर सर्वर के डाउन रहने के कारण किसानों को काफी परेशानी झेलनी पड़ी। 

स्मरण हो कि समिति पर सुबह से ही लगे किसानों को सर्वर के कारण आई दिक्कत से खाद न मिलने की बात समिति के अध्यक्ष श्रीकांत कुशवाहा तथा जिला पंचायत सदस्य दशरथ सोनकर को मालूम हुआ तो वह समिति पर पहुंच गए और खाद वितरित करने वाले कर्मचारी विनय कुमार मौर्य से बातचीत कर बीच का रास्ता निकाला और किसानों को बिना अंगूठा लगाए ही आधार कार्ड जमा कराकर खाद दिलवाया। तथा अगले दिन सर्वर चलने पर अंगूठा लगाकर लगाने के बाद आधार कार्ड वापस लौटाने की बात कही। जिससे किसानों को समिति पर आए 666 बोरी यूरिया में दो-तीन बोरी के हिसाब से सभी किसानों को उपलब्ध कराया गया।

  जिला पंचायत सदस्य दशरथ सोनकर एवं समिति अध्यक्ष श्रीकांत कुशवाहा के इस पहल से किसानों ने राहत की सांस ली।