जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
ऑडियो वायरल : चंदौली में नौकरी करते हैं ऐसे गालीबाज अफसर, कभी दे सकते हैं जनप्रतिनिधि को गाली
चंदौली जिले में काम करने वाले अधिकारी कैसे हैं और किस मानसिकता के साथ काम करते हैं इसका नमूना अगर आपको देखना है तो सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता के इस वीडियो को देख लीजिए।
 

ऑडियो वायरल

चंदौली में नौकरी करते हैं ऐसे गालीबाज अफसर

कभी दे सकते हैं जनप्रतिनिधि को गाली
 

चंदौली जिले में काम करने वाले अधिकारी कैसे हैं और किस मानसिकता के साथ काम करते हैं इसका नमूना अगर आपको देखना है तो सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता के इस वीडियो को देख लीजिए। बे-अंदाज साहब एक तो समय पर अपने कार्यालय नहीं जाते और जब कोई उनसे सवाल पूछता है तो किस तरह बदतमीजी के साथ बात करते हैं।

 भारतीय जनता पार्टी की सरकार सुशासन वाली सरकार कही जाती है और ऐसा माना जाता है कि इसमें अधिकारी और कर्मचारियों पर लगाम रहती है। यह अधिकारी और कर्मचारी हमेशा जनता के दुख दर्द को सुनना और समझना पंसद करते हैं, लेकिन सारे अधिकारी ऐसे नहीं हैं। कुछ ऐसे ही अधिकारियों ने चंदौली जनपद को बदनाम कर रखा है और इनकी वजह से भारतीय जनता पार्टी की सरकार भी बदनाम हो रही है।

चंदौली जिले की चंद्रप्रभा के अधिशाषी अभियंता द्वारा ग्राम प्रधान प्रतिनिधि को गाली देने का ऑडियो सोशल मीडिया में वो खूब हो रहा है। वायरल ग्राम प्रधान पति नहर पर बनने वाली पुलिया के जानकारी के लिए अधिशासी अभियंता चंद्रप्रभा से वार्ता करने के लिए फोन किया तो अधिशासी अभियंता महोदय गाली देकर फोन काट दिए।


 बताते चलें कि चंदौली जिले के बरहनी ब्लाक के कसवड़ ग्राम पंचायत के प्रधान पति अक्षबैर उपाध्याय द्वारा अधिशासी अभियंता चंद्रप्रभा सर्वेश चंद्र सिन्हा ने जब प्रधानपति की हैसियत नहर पर बनने वाली पुलिया के बारे में जानकारी चाही तो वह सवालों का जवाब देने के बजाय गाली देना ही उचित समझे, जिसकी रिकॉर्डिंग प्रधान पति द्वारा  वायरल करके अधिकारी की पोल खोलने की कोशिश की जा रही है। 

वहीं यह माना जा रहा है कि जनप्रतिनिधियों व चंदौली जिले के लोगों को ऐसे बेलगाम अधिकारी गाली भी देने का मंशा रखते हैं। यदि उनसे उनके काम से संबंधित बातें पूछी जाती हैं तो तो वह ऐसे ही गाली देते हैं। जिस का नजारा इस अधिशासी अभियंता की गाली को सुनकर लगा सकते हैं।

 अब सबकी नजर आला अफसरों पर है, जो ऐसे अधिकारी के कृत्य व कारनामे पर चुप्पी साधते हुए इनका हौसला बढ़ाते हैं या इनके ऊपर कार्रवाई करके जनप्रतिनिधियों का सम्मान करने की प्रेरणा देते हैं।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*