जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
देखिए वीडियोः नौगढ़ में दैनिक वेतन भोगी कर्मियों ने बजाया बिगुल, 27 सितंबर से देने जा रहे हैं धरना
 

चंदौली जिले के तहसील नौगढ़ में काशी वन्यजीव प्रभाग रामनगर के डीएफओ दिनेश सिंह के द्वारा कोरोना काल में पिछले साल आश्वासन दिए जाने के बाद भी मांगों को पूरा नहीं किए जाने से नाराज़ दैनिक वेतन भोगी कर्मियों में आक्रोश है। जिलाध्यक्ष विश्वनाथ यादव की अध्यक्षता में बैठक करते हुए कर्मियों ने आंदोलन का बिगुल बजाते हुए डीएफओ के खिलाफ नारेबाजी भी किया।


दुर्गा मंदिर नौगढ़ के पोखरे पर आयोजित बैठक दैनिक वेतन भोगी कर्मियों ने चेतावनी दिया है कि बकाया भुगतान न मिलने और अन्य मांगों को लेकर वे आंदोलन करने जा रहे हैं। 8 सूत्री मांगों को लेकर 27 सितंबर (सोमवार) से जयमोहनी रेंज कार्यालय के समक्ष धरना प्रर्दशन शुरू किया जाएगा। दैनिक वेतन भोगी वन कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष विश्वनाथ यादव  ने कहा कि प्रभागीय वनाधिकारी रामनगर दिनेश सिंह के द्वारा पिछले साल चल रहे धरना स्थल पर आकर वनकर्मियों की समस्याओं को पूरा करने को लेकर एक समझौता किया था परन्तु उसका अनुपालन 1 साल  बीतने के बाद भी नहीं किया गया है।


 बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे राज कर्मचारी महासंघ के प्रदेश संरक्षक त्रिवेणी प्रसाद खरवार ने कहां की मांगों को लेकर एक प्रतिनिधिमंडल 17 अगस्त को प्रभागीय कार्यालय में डीएफओ से मिला था और दैनिक वेतनभोगी कर्मियों की समस्याओं को सुलझाने हेतु 5 सितंबर की तिथि निर्धारित किया, लेकिन वे नहीं आए। राज्य कर्मचारी महासंघ के सलाहकार तथा दैनिक वेतन भोगी संघ के संरक्षक रमाशंकर सिंह यादव ने कहा कि डीएफओ रामनगर के अड़ियल रुख का यह परिणाम है कि संगठन को बार-बार आंदोलन करने के लिए बाध्य होना पड़ता है।


दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी संघ की  बैठक का संचालन जिला मंत्री कमलेश यादव ने किया। इस मौके पर प्रमुख रूप से  दैनिक वेतन भोगी वन कर्मचारी संघ के कार्यवाहक अध्यक्ष द्वारिका मोदनवाल के अलावा राम रतन चौहान, शिव कुमार विश्वकर्मा, जय श्री प्रसाद, कमलेश यादव,  रामखेलावन, भोरिक यादव,  रफीक, नरसिंह, मस्तराम, सुभाष, शिवकुमार, बाबूलाल, राजकुमार, असलम, मकसूदन, राम अवध, अफरोज, बाबूलाल, बृजमोहन, शैलेश, कांता, मस्तराम,समेत नौगढ़, मझगांई, जयमोहनी व चंद्रप्रभा रेंज के दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी मौजूद थे।