जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
देखिए वीडियो- नौगढ़ में नहीं पहुंचे हेड मास्टर तो प्रधान ने खोला ताला, बच्चों ने कहा योगी हैं प्रधानमंत्री
ग्राम प्रधान यशवंत सिंह यादव विद्यालय के ही काम से, बिजली का केबल और शौचालय मरम्मत कराने पहुंचे थे, बच्चों को बाहर खड़ा देख उन्होंने रसोईया शीला के घर से विद्यालय की चाबी मंगवाकर ताला खोला और थोड़ी देर बाद पहुंची शिक्षामित्र निशा के साथ बच्चों का  प्रार्थना और राष्ट्रगान कराया। 
 

नौगढ़ में नहीं पहुंचे हेड मास्टर तो प्रधान ने खोला स्कूल का ताला। 

बच्चों ने कहा योगी हैं देश के प्रधानमंत्री। 

चंदौली जिले के तहसील नौगढ़ में प्राथमिक विद्यालय लौवारी खुर्द में मंगलवार को हेड मास्टर के न आने पर ग्राम प्रधान और महिला शिक्षा मित्र के साथ बच्चों ने प्रार्थना और राष्ट्रगान किया। इस विद्यालय में आए दिन प्रार्थना के समय शिक्षक नहीं आते हैं। अध्यापकों के गायब रहने से बच्चों का शिक्षण कार्य भी प्रभावित हो रहा है। 


आपको बता दें कि अभिभावकों ने 2 दिन पहले अध्यापकों से कहा था कि, आप लोग सुधर जाएं, लेकिन अध्यापकों का  रवैया नहीं बदला और सुबह 10 बजे तक इंतजार करने के बाद भी हेड मास्टर और सहायक अध्यापक नहीं पहुंचे। 


विकास क्षेत्र नौगढ़ के प्राथमिक विद्यालय लौवारी खुर्द में 4 अध्यापक तैनात हैं। इसमें एक महिला शिक्षामित्र निशा और एक लक्ष्मण नाम के शिक्षामित्र नियुक्त हैं। इसके अलावा एक सहायक अध्यापक सूरज विश्वकर्मा व प्रधानाध्यापक जैकेंद्र राव जैसल बच्चों को पढ़ाते हैं। विद्यालय में 46 छात्र-छात्राएं पंजीकृत हैं। इस विद्यालय में आए दिन प्रार्थना के बाद ही गुरुजन पहुंचते हैं। सुबह 10 बजे तक यहां महिला शिक्षा मित्र निशा के अलावा एक भी अध्यापक नहीं पहुंचा। बच्चे स्कूल के बाहर गेट पर रोजाना की तरह खड़े थे। 


ग्राम प्रधान यशवंत सिंह यादव विद्यालय के ही काम से, बिजली का केबल और शौचालय मरम्मत कराने पहुंचे थे, बच्चों को बाहर खड़ा देख उन्होंने रसोईया शीला के घर से विद्यालय की चाबी मंगवाकर ताला खोला और थोड़ी देर बाद पहुंची शिक्षामित्र निशा के साथ बच्चों का  प्रार्थना और राष्ट्रगान कराया। 


ग्राम प्रधान यशवंत सिंह ने उपस्थिति पंजिका मंगाकर गायब अध्यापकों को अनुपस्थित करने के बाद बीएसए को मोबाइल पर जानकारी दिया। उन्होंने बच्चों में बिस्कुट बांटकर रोज विद्यालय आने को कहा। 

Pradhan of school opened  lock

 लौवारी गांव के श्रीकांत, हेमनाथ, प्रदीप कुमार ने चंदौली समाचार को बताया कि यहां पढ़ने वाले बच्चों या रसोइया को एक कमरे की चाबी दे दी जाती है। स्कूल पहुंचने पर बच्चे चाबी से कमरा खोलकर साफ-सफाई व चटाई बिछाकर काम शुरू कर देते हैं। 

...........................................

क्या कहते हैं एबीएसए अवधेश नारायण सिंह


 समय से अध्यापकों का स्कूल नहीं जाना गलत है। वे विद्यालय जाकर पूछताछ करेंगे। लापरवाह शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई के लिए लिखा-पढ़ी की जाएगी।


हेड मास्टर का नहीं जानते, बच्चों ने बताया पीएम का नाम योगी जी


बेसिक शिक्षा की गुणवत्ता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि बच्चों के अपने देश, जिला और हेड मास्टर तक का भी नाम नहीं मालूम है। ग्राम प्रधान यशवंत सिंह यादव के पूछने पर कक्षा 5 के एक छात्र ने पीएम का नाम योगी जी बताया जबकि मुख्यमंत्री का नाम किसी भी बच्चे को नहीं पता था ।